लंपी त्‍वचा रोग

लंपी त्‍वचा रोग

देश के पशुधन के लिए बड़ी राहत प्रदान करते हुए केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज पशुओं को लम्पी स्किन रोग से बचाव हेतु स्वदेशी वैक्सीन (लम्पी-प्रो वैक-इंड/Lumpi-ProVacInd) लांच की। यह वैक्सीन राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केंद्र, हिसार (हरियाणा) ने भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान, इज्जतनगर (बरेली) के सहयोग से बनाई है।

लंपी स्किन रोग एक संक्रामक रोग है जो वायरस की वजह से तेजी से फैलता है और कमजोर इम्‍यूनिटी वाली गायों को खासतौर पर प्रभावित करता है। इस रोग का कोई ठोस इलाज न होने के चलते सिर्फ वैक्‍सीन के द्वारा ही इस रोग पर नियंत्रण और रोकथाम की जा सकती है। हालांकि पशु चिकित्सा विशेषज्ञों की मानें तो कुछ देसी और आयुर्वेदिक उपायों के माध्यम से भी लंपी रोग से संक्रमित हुई गायों और भैंसों ठीक किया जा सकता है।

देश के कई राज्यों में गायों और भैंसों में लंपी स्किन रोग वायरस का संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। जिसकी वजह से गुजरात, राजस्‍थान सहित कई राज्यों में हजारों की संख्या में मवेशियों की मौत हो चुकी है। मरने वाले पशुओं में सबसे बड़ी संख्या गायों की है।

SOURCE-PIB

PAPER-G.S.1PRE

CIVIL SERVICES EXAM