MyGov.in (माईगव)

MyGov.in (A Platform for Citizen Engagement towards Good Governance in India) - माईगव नागरिकों से जुड़ने का दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे सफल कार्यक्रम है। इसका शुभारंभ माननीय प्रधानमंत्री ने 26 जुलाई, 2014 को किया था।

माई गव नागरिकों से जुड़ने का दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे सफल कार्यक्रम है। इसका शुभारंभ माननीय प्रधानमंत्री ने 26 जुलाई, 2014 को किया था। माई गव कर्नाटक का शुभारंभ कर्नाटक के मुख्यमंत्री श्री बसवराज बोम्मई द्वारा 17 मई 2022 को किया गया था। कर्नाटक अपना माई गव राज्य का उदाहरण रखने वाला देश का 17वां राज्य बन गया है।

माई गव कर्नाटक नागरिकों से विचार आमंत्रित करने के एक प्लेटफॉर्म के रूप में काम करेगा और इसका उद्देश्य प्रशासन और नीति निर्माण में सक्रिय नागरिक भागीदारी और जुड़ाव को बढ़ावा देना है।

सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में समय पर और प्रामाणिक जानकारी का प्रसार करने पर ध्यान केंद्रित करने पर भी माई गव कर्नाटक का उद्देश्य है

कर्नाटक एक टेक-सेवी राज्य होने के कारण, कर्नाटक सरकार को अपने नागरिकों से बड़ी संख्या में भाग लेने और सरकार के साथ जुड़ने की आशा है। इसके लिए, माई गव कर्नाटक के पास नागरिकों को चर्चा, कार्य, नवाचार चुनौतियों, चुनाव, सर्वेक्षण, ब्लॉग, वार्ता, प्रश्नोत्तरी और जमीनी गतिविधियों जैसे क्रिया-कलापों से जोड़ने के विभिन्न माध्यम हैं।

माई गव इंडिया के शुभारंभ के दौरान, माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने अपने संबोधन में उल्लेख किया था कि प्रशासन में नागरिकों की भागीदारी केवल मतदान तक सीमित नहीं होनी चाहिए; माई गव की यह पहल राष्ट्र निर्माण के साथ-साथ समावेशी और समग्र विकास करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

कर्नाटक सरकार ने अपने नागरिकों से इस क्रांतिकारी मंच में शामिल होने और सुशासन में भाग लेने का आग्रह किया है।

माईगव

माईगव (MyGov) भारत सरकार का एक पोर्टल है जिसका शुभारंभ 26 जुलाई 2014 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया। इस पोर्टल का मुख्य उद्देश्य है नागरिकों को सरकार के साथ जोड़ना तथा राष्ट्र के विकास में हाथ बंटाने के माध्यम के रूप में कार्य करना है।

माईगव भारत सरकार का एक पोर्टल है जिसका शुभारंभ 26 जुलाई 2014 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया। इस पोर्टल का मुख्य उद्देश्य है नागरिकों को सरकार के साथ जोड़ना तथा राष्ट्र के विकास में हाथ बंटाने के माध्यम के रूप में कार्य करना है। माईगव नागरिको को अनेक विषयों पर चर्चा एवं विचार-विमर्श में भाग लेने का अवसर देता है तथा अनेक लोगों के साथ विचारों के आदान-प्रदान का मौका देता है। नागरिक इस मंच पर कागजात, केस स्टडी, चित्र, वीडियो और अन्य कार्य योजनाएं अपलोड कर सकते हैं। वे ऐच्छिक रूप से विविध कार्य कर सकते हैं और अपनी प्रविष्टियां जमा करा सकते हैं। अन्य सदस्य और विशेषज्ञ इन कार्यों की समीक्षा करेंगे। अनुमोदित होने पर इन कार्यों की जानकारी उन लोगों को दी जा सकती है जिन्होंने कार्य पूरा किया है तथा माईगव के अन्य सदस्यों को भी इसकी जानकारी दी जा सकती है। राष्ट्रीय सूचना केंद्र -एनआईसी, इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग इस पोर्टल का प्रबंधन करेंगे।

जो लोग वि‍चार-वि‍मर्श से आगे बढ़कर जमीनी योगदान देना चाहते हैं उनके लि‍ए माई गवर्नमेंट पोर्टल अनेक अवसर देता है। नागरि‍क वि‍भि‍न्‍न कायों के लि‍ए स्‍वयं आगे बढ़ सकते हैं और अपनी प्रवृष्‍टि‍यां दे सकते हैं। फि‍र इन कार्यों की समीक्षा अन्‍य सदस्‍य तथा वि‍शेषज्ञ करेंगे। मंजूरी के बाद इन कार्यों को पूरा करने वाले लोगों तथा माई गवर्नमेंट के अन्‍य सदस्‍यों से साझा कि‍या जाएगा। प्रत्‍येक मंजूर कार्यों को पूरा करने के लि‍ए प्रोत्‍साहन अंक मि‍लेंगे]इस मंच को स्‍वच्‍छ गंगा, बालि‍का शि‍क्षा, स्‍वच्‍छ भारत, कौशलपूर्ण भारत, डिजि‍टल भारत और रोजगार सृजन जैसे वि‍भि‍न्‍न समूहों में बांटा गया है। प्रत्‍येक समूह को ऑनलाइन तथा ऑनग्राउंड कार्य दि‍ए गए हैं जि‍से योगदानकर्ता अपने हाथ में लेंगे। इसका उद्देश्‍य लोगों की भागीदारी के जरि‍ए गुणात्‍मक परि‍वर्तन लाना है।

SOURCE-PIB

PAPER-G.S.2