इसरो ने श्रीहरिकोटा से तीन उपग्रहों को ले जाने वाले SSLV-D2 का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया

इसरो ने श्रीहरिकोटा से तीन उपग्रहों को ले जाने वाले SSLV-D2 का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया

  • भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने 10 फरवरी 2023 को अपने नए और सबसे छोटे रॉकेट SSLV-D2 को अंतरिक्ष में लॉन्च कर दिया।
  • आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा में सतीश धवन स्पेस सेंटर से यह लॉन्चिंग की गई।

  • SSLV-D2 ने सफलतापूर्वक तीनों सैटेलाइट्स को पृथ्वी की निचली कक्षा में स्थापित कर दिया है।
  • SSLV-D2 ने अपने साथ तीन सैटेलाइट लेकर अंतरिक्ष की उड़ान भरी, जिनमें अमेरिकी की कंपनी अंतारिस की सैटेलाइट Janus-1, चेन्नई के स्पेस स्टार्टअप स्पेसकिड्ज की सैटेलाइट AzaadiSAT-2 और इसरो की सैटेलाइट EOS-07 शामिल थी
  • ये तीनों सैटेलाइट्स 450 किलोमीटर दूर सर्कुलर ऑर्बिट में स्थापित किए गए।

SSLV-D2 प्रक्षेपण यान:

  • इसरो के अनुसार, SSLV-D2 (Small Satellite Launch Vehicle) 500 किलोग्राम तक की सैटेलाइट को लोअर ऑर्बिट में लॉन्च करने में काम में लाया जाता है।
  • यह रॉकेट ऑन डिमांड के आधार पर किफायती कीमत में सैटेलाइट लॉन्च की सुविधा देता है।
  • 120 टन वजनी यह रॉकेट ठोस ईंधन संचालित तीन चरणों वाला रॉकेट है।

Any Doubts ? Connect With Us.

Related Links

Connect With US Socially

Request Callback

Fill out the form, and we will be in touch shortly.