विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने चेतावनी दी है कि कोविड महामारी के कारण ‘खसरा’ वैश्विक खतरा बना हुआ है

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने चेतावनी दी है कि कोविड महामारी के कारणखसरावैश्विक खतरा बना हुआ है

  • विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन ने विश्व के विभिन्न भागों में खसरा फैलने की चेतावनी जारी की है। कोविड-19 के दौर में खसरे के टीकाकरण और इसके प्रसार पर निगरानी में कमी के कारण यह खतरा बढ़ा है

  • विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन तथा अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र से कल जारी संयुक्त रिपोर्ट के अनुसार कोविड महामारी के चलते पिछले साल चार करोड़ से अधिक बच्‍चों को खसरे का टीका नहीं लग पाया।
  • WHO में खसरे की रोकथाम से जुड़े प्रमुख अधिकारी पैट्रिक ओ’ कॉनर ने कहा कि यह रोकथाम के उपाय करने का समय है। अगले 12 से 24 महीने काफी चुनौतीपूर्ण हैं। उन्‍होंने कहा कि इस वर्ष की शुरूआत से ही खसरे का फैलाव बढ़ा है और वे अफ्रीका के उपसहारा क्षेत्र को लेकर विशेष चिंतित हैं।
  • विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के अनुसार 2021 में 22 देशों में खसरे से 90 लाख लोगों के ग्रस्त होने और एक लाख 28 हजार की मौत होने का अनुमान है

खसरा (Measles):

  • खसरा, Measles वायरस के कारण होने वाला एक अत्यधिक संक्रामक रोग है। शुरुआती लक्षणों में आमतौर पर बुखार, अक्सर 40 °C (104 °F) से अधिक, खांसी, नाक बहना और आंखों में सूजन शामिल हैं।
  • उल्लेखनीय है कि टीकाकरण से खसरे की पूरी तरह रोकथाम संभव है। इसका फैलाव रोकने के लिए 95 प्रतिशत आबादी का टीकाकरण जरूरी है
CIVIL SERVICES EXAM