चेन्नई और समुद्र तटीय इलाकों में चक्रवाती तूफान ‘मैंडूस’ का असर नजर आने लगा है

चेन्नई और समुद्र तटीय इलाकों में चक्रवाती तूफानमैंडूसका असर नजर आने लगा है

  • तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई और समुद्र तटीय इलाकों में चक्रवाती तूफानमैंडूसका असर नजर आने लगा है।
  • इस बीच 9 दिसंबर को भारत मौसम विज्ञान विभाग की तरफ से कहा गया कि तमिलनाडु के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथसाथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई है। चक्रवाती तूफान की वजह से नागापट्टिनम और तंजावुर के अलावा चेन्नई और इसके तीन पड़ोसी जिलों समेत कुड्डलोर में भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

किसने रखामैंडूसनाम?

  • क्या आप जानते हैं कि, मैंडूसएक अरबी शब्द है और इसका मतलब होता हैखजाने का बॉक्स
  • दरअसल, चक्रवातों का नाम क्षेत्रीय विशिष्ट मौसम विज्ञान केंद्र और उष्णकटिबंधीय चक्रवात चेतावनी केंद्र जरिए किया जाता है।
  • चक्रवाती तूफान का नाममैंडूससंयुक्त अरब अमीरात की तरफ से चुना गया है।
  • भारत मौसम विज्ञान विभाग की तरफ से कहा गया है कि, डॉप्लर मौसम रडार चक्रवात की निगरानी कर रहे हैं।
  • तूफान के पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और नौ दिसंबर को आधी रात के आसपास पुडुचेरी, श्रीहरिकोटा के बीच उत्तरी तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तट से गुजरने की संभावना है। मैंडूस चेन्नई से 60 किमी दक्षिण-दक्षिण पूर्व और कराईकल से 180 किमी पूर्व-उत्तर पूर्व में स्थित रहा।
CIVIL SERVICES EXAM